कोरोना वायरस: चीन ने 10 दिन में कैसे खड़ किया हॉस्पिटल

0
48

चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए, 1000 बेड का एक स्पेशल हॉस्पिटल बनाया गया है। यह 3 फरवरी से चालू हो चुका है।

कोरोना वायरस: चीन ने 10 दिन में कैसे खड़ किया हॉस्पिटल
कोरोना वायरस: चीन ने 10 दिन में कैसे खड़ किया हॉस्पिटल

हॉस्पिटल बनाने के लिए कितने लोग और मशीन लगे?

चीन ने हॉस्पिटल का निर्माण करने के लिए 100 हेवी कंस्ट्रक्शन मशीन और 7000 वर्कर्स का सहारा लिया। निर्माण कार्य की प्रगति के बारे में लाइव स्ट्रीमिंग करके 40 मिलियन लोगों को लगातार अवगत कराया जा रहा था।

बीबीसी न्यूज़ (वर्ल्ड ) के ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया चीन के हॉस्पिटल टाइम लैप्स वीडियो

ऐसा हॉस्पिटल चीन पहले भी बना चुका है

चीन के लिए ऐसा करना कोई आश्चर्य की बात नहीं है। 2003 में एस ए आर एस वायरस का प्रकोप के समय चीन ने 1000 बेड वाले शियाओटनशन हॉस्पिटल का निर्माण किया था यह कार्य सिर्फ 7 दिनों में पूरा गया था।

सभी वार्डों में लेबोरेटरी के साथ आईसीयू की सुविधा भी उपलब्ध थी। इसी अस्पताल के ब्लूप्रिंट के सुविधा लेकर चीन ने अभी के हस्पताल आसानी से बना लिया।

निर्माण कार्य की शुरुआत कैसे हुई ?

हॉस्पिटल बिल्डिंग के सभी पुर्जा को फैक्ट्री में ही बनाकर कंस्ट्रक्शन साइट पर ट्रांसपोर्ट किया गया इससे काफी समय की बचत हुई।हॉस्पिटल के लिए  साइट तय होने के बाद उसे बुलडोजर से अच्छे से लेवल किया गया और उसकी आधारशिला रखी गई। इसके बाद वहां 7000 मजदूर काम में भीड़ गए।

यह भी पढ़ें : कोरोना वायरस के बारे में फैल रही अफवाह के बारे में जाने

हॉस्पिटल और सुविधाएं

यह हॉस्पिटल का नाम हुओशेंशान है। यह दो स्टोरी बिल्डिंग वाला हॉस्पिटल है लेकिन 8 एकड़ में फैला हुआ है। इसमें 30 आईसीयू यूनिट भी होंगे। यहां तक कि हॉस्पिटल के अंदर से ही वीडियो के माध्यम से बीजिंग के मेडिकल एक्सपर्ट के साथ भी जोड़ा जा सकता है।

यहां के सभी रूम डिप्रेशराइज्ड है जिससे कीटाणु इसके अंदर नहीं पहुंच सकते। यहां पर रोबोट्स भी तैनात किए गए हैं जो कि दवाई और टेस्ट सैंपल डिलीवर करने का काम करेंगे। 

चीन सींहुआ न्यूज़ के ट्विटर हैंडल द्वारा पोस्ट किया गया हुओशेनशान हॉस्पिटल के कुछ तस्वीर

सोर्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here