सिगरेट नहीं पीने वालों को एक कंपनी देगा 6 दिन एक्स्ट्रा छुट्टी

0
37

क्या आपने कभी सोचा है सिगरेट पीने वाले काम का कितना समय ब्रेक में बिताते हैं? नहीं ना। औसतन एक धूम्रपान करने वाला वाला व्यक्ति 1 साल में 6 दिन सिगरेट ब्रेक लेता है। हालांकि यह जानकर सिगरेट पीने वाले ज्यादा खुश नहीं होंगे।

सिगरेट नहीं पीने वालों को एक कंपनी देगा 6 दिन एक्स्ट्रा छुट्टी
सिगरेट नहीं पीने वालों को एक कंपनी देगा 6 दिन एक्स्ट्रा छुट्टी

शुरुआत कहां से हुई ?

2017 में जापान की एक मार्केटिंग कंपनी (Piala) ने सिगरेट नहीं पीने वालों को एक्स्ट्रा 6 दिन छुट्टी देने का प्रस्ताव रखा था। वहीं अब 2020 में इंग्लैंड के एक कंपनी स्विंडोन (Swindon) में यह नहीं पीने वालों को 4 दिन एक्स्ट्रा छुट्टी दिया जाएगा। कंपनी सीईओ को सोशल मीडिया पर जापान के बारे में जानकर प्रेरणा मिली थी। लेकिन यह 4 या 6 दिन छुट्टी पाने के लिए 1 साल तक सिगरेट नहीं पीना होगा।

Embed from Getty Images

उद्देश्य क्या है?

इंग्लैंड के कंपनी ने इस पॉलिसी को जनवरी 2 से लागू किया है। इस पॉलिसी का उद्देश्य है कि लोगों को पीना छोड़ने को प्रोत्साहन कर सके। यह बहुत आश्चर्य है कि इस कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर भी एक सिगरेट सेवन करने वाले रह चुके हैं। वे कहते हैं कि एक काम करने की स्वस्थ जगह ही खुशी की जगह है।

कैसे हुई शुरुआत?

एक दिन जापान के कंपनी में,  धूम्रपान नहीं करने वाले कर्मचारी ने शिकायत किया कि सिगरेट ब्रेक के कारण उन्हें परेशानी हो रही है। इसके बाद वहां के सीईओ ने माना कि धूम्रपान नहीं करने वाले वालों को कंपनसेट करने के लिए एक्स्ट्रा छुट्टी दिया जाएगा।

Embed from Getty Images

काम के समय धूम्रपान करने का पूरा गणित क्या है ?

कंपनी ने कैलकुलेट करके देखा है कि लोग सिगरेट पीने के लिए सामान्यतः हर दिन 3 बार 10 मिनट का ब्रेक लेते हैं। जिसे जोड़ा जाए तो यह साल में 16 दिन होंगे। इसीलिए कंपनी ने सिगरेट नहीं पीने वाले को 4 दिन छुट्टी देने का फैसला किया।

काम के समय सिगरेट पीने और नहीं पीने वालों के बीच भेदभाव होता है। पीने वाले जहां बीच में उठ उठ कर ब्रेक लेते हैं, वही नहीं पीने वाले बैठे बैठे काम करते रहते हैं। कंपनी ने सोचा कि पीने वालों को दंड देने से अच्छा है कि नहीं पीने वालों के को शराहा जाए और उनको इनाम दिया जाए।

इस पर रिसर्च स्टडी क्या कहती है?

ब्रिटेन के एक रिसर्च स्टडी में देखा गया है कि लोगों के सिगरेट पीने के लिए दिन में चार बार 10 मिनट का ब्रेक के कारण उत्पादन में 84 बिलियन यूरो का नुकसान हुआ है।

कंपनी के पॉलिसी का असर 

मीडिया रिपोर्ट में जापानी कंपनी ने दावा किया है कि पॉलिसी लागू करने से 42 में से 4 सिगरेट पीने वाले कर्मचारी पीना बंद कर चुके हैं।

मुकेश ने तो अपनी ज़िन्दगी गवां दी आप मत गवाइये।

यह भी पढ़ें : तीन कप कॉफी पीकर डायबिटीज से बचे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here