चीन में फैल रही कोरोना वायरस के बारे में जानिए

0
67

हल ही में चीन में एक नया वायरस, कोरोना वायरस का पता चला है जिससे करीब 1200 लोग संक्रमित हो चुके है और लगभग 41 लोगों कि मौत हो चुकी है। व

चीन में फैल रही कोरोना वायरस के बारे में जानिए
चीन में फैल रही कोरोना वायरस के बारे में जानिए

र्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन (World Health Organisation) ने इमरजेंसी कहा लेकिन इससे अंतराष्ट्रीय स्तर पर खतरा नहीं है।

चीन के नेशनल हेल्थ कमीशन (National Health Commission)के अनुसार 25 जनवरी तक 1200 केसेस कि पुष्टि कि जा चुकी है और ज्यादा तर केसेस सेंट्रल चायनीज़ सिटी ऑफ़ वुहान (Central Chinese City of Wuhan) के है। वुहान सिटी को ही वायरस का मूल माना जा रहा है।

कोरोना वायरस क्या है

कोरोना वायरस ” एक वायरस के समूह को कहा जाता है जो इंसानी शरीर में कुछ इस प्रकार के बीमारी पैदा करने के कारण जैसे सर्दी जुकाम या इससे गंभीर बीमारी जैसे सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (Severe Acute Respiratory Syndrome – SARS ) और मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (Middle East Respiratory Syndrome – MERS )

कोरोना वायरस के लक्षण

इस वायरस से संक्रमित होने से बुखार , थकान , सूखा खांसी, गले में दर्द और साँस लेने में परेशानी जैसे लक्षण देखे जाते है।

लेकिन यह अन्य स्वशन सम्बन्धी बीमारी जैसे है जिससे कि इसका पहचान करना मुश्किल है। शुरू में चीन के अधिकारीयों ने इसे नए तरह का न्युमोनिआ (pneumonia) समझा लेकिन बाद में इसे कोरोना वायरस कहा गया।

वायरस कैसे फैला ?

यह वायरस जानवरों से इंसानो में फैलता है। लेकिन अब यह इंसानो से इंसानो में भी फैल रहा है। संक्रमित व्यक्ति से हाँथ मिलते या उसके छींक या कफ के संपर्क में आने से यह वायरस फैलता है।

हाल ही में आये कोरोना वायरस, सेंट्रल चायनीस सिटी ऑफ़ वुहान सिटी में स्तिथ अवैध वन्य जीव मार्केट से आया है। WHO भी इसकी जाँच कर रहा है।

क्या इसका वैक्सीन उपलब्ध है ?

चूँकि यह नया वायरस है कोई एक निर्धिष्ट वैक्सीन इसे ठीक नहीं कर सकता। बीमार व्यक्ति के लक्षण को देखते हुए इसका इलाज किया जा रहा है।

वुहान शहर में लोगों कि स्तिथि

करीब 11 मिलियन लोग वुहान शहर में फसे हुए है। 25 भारतीय स्टूडेंट्स भी वहां फसे है जिनमें से 20 लोग केरल से है।

WHO के वेबसाइट से द्वारा कोरोना वायरस के बारे में और डिटेल में जानकारी प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

यह भी पढ़ें : चीन ने 10 दिन में कैसे खड़ किया हॉस्पिटल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here